आयकर कटौती का तोहफा दे सकती है सरकार

नई दिल्ली । अर्थव्यवस्था में आई सुस्ती के कारण उपभोक्ता मांग में भारी गिरावट को देखते हुए सरकार आयकर के मोर्चे पर कुछ राहत दे सकती है। सुस्ती को दूर करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा चौथे बूस्टर डोज के तहत कंपनियों के कॉरपोरेट टैक्स में भारी कटौती से पर्सनल इनकम टैक्स में भी कटौती की आस जगी है। सरकार को एक टास्क फोर्स ने पर्सनल इनकम टैक्स के मोर्चे पर भविष्य में किए जाने वाले उपायों की एक रिपोर्ट सौंपी है। यह रिपोर्ट केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पिछले महीने सौंपी गई है, साथ ही यह भी संकेत मिले हैं कि वह इसमें की गई सिफारिशों को स्वीकार करने से पहले उस पर चर्चा करना चाहेंगी।
सुपररिच पर सरचार्ज को रोकने का विचार
आर्थिक सुस्ती को देखते हुए कुछ विशेषज्ञों ने मांग को बढ़ावा देने के लिए सुपररिच पर सरचार्ज को भी कुछ समय के लिए रोकने का सुझाव दिया है, हालांकि संभावना है कि इसपर फैसला तुरंत लिया जाएगा।
टैक्स कटौती के नतीजों पर सरकार की नजर
कॉरपोरेट टैक्स में बड़ी कटौती क्या नतीजे निकलते हैं, इसे देखने के लिए सरकार हालांकि देखो और इंतजार करो की नीति अपनाएगी। सरकार का विचार है कि इस उपाय से नकारात्मक संकेत दूर होंगे और इन्वेस्टमेंट साइकिल में नई जान फूंकने में मदद करेंगे, जिससे मांग में बढ़ोतरी होगी।